धोनी ए कैटेगरी से हुए बाहर

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और फिरकी गेंदबाज आर अश्विन बीसीसीआई की सालाना जारी होने वाली वेतन राशि में सबसे ज्यादा वेतन पाने वाले खिलाड़ियों में से नहीं है

BCCI के नए कॉन्ट्रैक्ट में कई अहम बदलाव किए गए हैं जिसमें एक और कैटेगरी बनाई गई है अब ए प्लस कैटेगरी वाले खिलाड़ी सबसे ज्यादा वेतन पाने वाले खिलाड़ी होंगे तो वही महिला क्रिकेट में नई कैटेगरी के रूप में ग्रेड सी को शामिल किया है

दरअसल सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रबंधक समिति ने आज भारतीय क्रिकेट बोर्ड के खिलाड़ियों का सालाना वेतन त तय कर दिया है। यह वेतन 2017 अक्टूबर से सितंबर 2018 तक मान्य रहेगा ।

‘ए’ कैटेगरी में आने वाले खिलाड़ियों में विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह है इन खिलाड़ियों को हर साल बीसीसीआई 7 करोड़ देगी

इसके बाद ग्रेड-ए है जिसमें 7 खिलाड़ी हैं जो इस प्रकार है रविचंद्र अश्विन, रविंद्र जडेजा मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे ,एस एस धोनी और रिद्धिमान साहा का नाम शामिल है इन सभी को सालाना 5 करोड़ सलाना मिलेगे।

‘ए’ के बाद बी कैटेगरी है । जिसमें सलामी बल्लेबाज राहुल कुमार, उमेश यादव, कुलदीप यादव, यजुवेंद्र चहल, हार्दिक पांड्या, इशांत शर्मा और दिनेश कार्तिक का नाम शामिल है इन सब को तीन करोड़ सालाना मिलेगी

चौथी और आखरी लिस्ट यानी कि ग्रेड सी में सात खिलाड़ी है जिसमें केदार जाधव ,मनीष पांडे ,अक्षर पटेल, करुण नायर, सुरेश रैना, पार्थिव पटेल और जयंत यादव के नाम शामिल है इन सभी को एक करोड़ सालाना मिलेगी

इसके साथ ही घरेलू खिलाड़ियों के वेतन में 200 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है इसके साथ ही 19 महिला खिलाड़ी को भी ए बी और सी में कैटेगरी में विभाजित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bitnami