पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का 67 साल में हुआ निधन, इस गम्भीर बीमारी से ग्रस्त रहीं

0
33

सुषमा पिछले काफी समय से बीमार चल रही थीं और इसी वजह से उन्होंने 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था। सूत्रों की मानें तो उन्हें हार्ट अटैक आने के बाद यहां लाया गया था। एम्स के पांच डॉक्टर्स की देख-रेख में उनका इलाज किया जा रहा था।

पूर्व विदेश मंत्री को इससे पहले भी किडनी फेल होने की समस्या के चलते यहां भर्ती कराया गया था। साल 2016 में किडनी खराब होने के कारण उन्हें डायलिसिस पर रखा गया था। लेकिन ट्रीटमेंट के बाद उनकी हालत में सुधार आ गया था। इलाज के बाद से ही वह राजनीति में थोड़ा कम सक्रिय हो गई थीं।

हम आपको बता दें कि किडनी ट्रांसप्लांट से बढ़ी समस्या, दिसंबर 2016 में सुषमा का किडनी ट्रांसप्लांट किया गया था।इसके अलावा वह डायबिटीज की पुरानी बीमारी से भी जूझ रही थीं। सुषमा करीब 20 साल से भी ज्यादा समय से डायबिटीज से पीड़ित थीं। डॉक्टर की माने तो डायबिटीज होने के बाद ही उनकी किडनी खराब हुई थी।

गोरतलब हैं कि हर साल किडनी की बीमारी के चलते लाखों लोग अपनी जान गंवा देते हैं। किडनी की बीमारी के लक्षण उस वक्त उभरकर सामने आते हैं, जब किडनी 60 से 65 प्रतिशत खराब हो चुकी होती है।इसलिए इसे साइलेंट किलर भी कहा जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here