EMI नही चुकाने पर लगाई जा रही है डबल पेनल्टी, देहरादून निवासी युवक ने अब पीएम मोदी से लगाई मदद की गुहार

0
410
कोरोना वायरस के चलते पूरे देश भर में 21 दिन तक लॉक डाउन कि पीएम मोदी की घोषणा के बाद। जहां राज्य सरकार की तरफ से वित्तीय सहायता दी  जा रही है तो वही प्राइवेट लोन देने वाली संस्था लोगों से समय पर ईएमआई नहीं चुकाने पर डबल पेनल्टी वसूल रही है ।  कुछ ऐसा ही एक मामला फोटोग्राफर सुखबीर चौहान नामक इंद्र कॉलोनी में रहने वाले युवक का है जिसने 6 महीने पहले  होम क्रेडिट संस्था से 15 हज़ार का samsung फोन ईएमआई पर खरीदा था पिछले 5 महीने से वह हर महीने 2739 रु की  किश्त समय से चुका रहा था।अब उसकी आखरी किश्त बची थी जिसे 24 मार्च को उसे चुकानी थी।
लेकिन 22 मार्च से प्रदेश में लॉक डाउन के चलते वह  24 मार्च शाम को पैसे का इंतिजाम कर पाया, और तुरंत paytm के द्वारा आखरी किश्त का भुगतान करने की कोशिश की   लेकिन paytm से  पेमेंट नही ली गई। । जिसके बाद उसने कॉस्ट्यूमर केअर को इस संबध में  E- mail  किया लेकिन वहाँ से कोई रिप्लाई नही आया फिर अगले दिन सुखबीर को  कंपनी की और से 5478रु के  भुगतान का मैसेज आया। यह देख सुखबीर के होश उड़ गए और उसने तुरंत कंपनी को  E-mail कर इस बढे हुए  चार्ज के बारे में पूछा  जिस पर कंपनी की तरफ से रिप्लाई आया कि कोरोना वायरस के चलते स्टाफ कम है अब आपकी  शिकायत को 10 दिन के अंदर दूर कर दिया जाएगा ।
लेकिन सुखबीर को कंपनी  की कार्यशैली पर भरोसा नही हो रहा है साथ ही उसे अपना  क्रेडिट स्कोर खराब होने का डर सता रहा है
सुखबीर ने कहा  उन्हें  कंपनी पर भरोसा नहीं हो रहा है  और अगर  कंपनी डबल पेनल्टी नही वसूलेगी तो जरूर  पेनल्टी  के रूप में कुछ न कुछ रकम तो जरूर लेगी,

इसी डर के चलते सुखबीर सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री से ट्विटर पर गुहार लगाइ कि वह कंपनी की इस रुख पर उसकी मदद करें।
जब हमने सुखबीर से पूछा कि किश्त के लिए 24 मार्च को ही क्यों उसने चुना क्यों नही उसने 8 दिन 10 दिन पहले पैसे का भुगतान किया तो उसने कहा कि वह होली के चलते घर गया था इसी दौरान घर में कुछ पारिवारिक समस्या के चलते उसे देहरादून में आने में समय लग गया। जिसके कारण वह समय से पार्टी से  पेमेंट नहीं ले पाया।सुखबीर ने  होली में जाने से पहले एक जगह भागवत की वीडियोग्राफी की थी जिसके पैसे उसे पार्टी द्वारा 23 तारीख को लेने को बुलाया  ।लेकिन 22 मार्च को  लॉक डाउन  के चलते उन्होंने उसे 24 मार्च की शाम को पैसे देने की बात कही। 24 मार्च  शाम को  पार्टी ने सुखबीर को उसका भुगतान कर दिया। सुखबीर ने कहा कि उसने ज्यादातर अपनी किश्त आखिरी दिन ही दी है।  लेकिन पता नहीं इस बार  कंपनी ऐसा क्यों कर रही है।
अब सुखबीर को प्रधानमंत्री से ही उम्मीद है वह इस समस्या पर उनकी मदद जरूर करेंगे

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here