कोरोना वायरस का असर शादियों पर भी,अप्रैल में होने वाली शादिया हो रही है कैंसिल

0
165
कोराना की प्रति लोग इतने जागरूक हो गए हैं कि अब इसको लेकर वह पूरी तरह से एतिहाद बरत रहे हैं कुछ ऐसा ही एक मामला देहरादून से आया है जहां माजरा के रहने वाले राहुल नेगी ने कोरोना के संक्रमण के चलते अपनी जो शादी है उसे कैंसिल कर दी है
राहुल का कहना है कि उनका 17 अप्रैल को जन्मदिन था उसी दिन उन्होंने शादी की डेट फिक्स की थी और यह एक बहुत अच्छा पल उनके लिए होने वाला था कि शादी के साथ उनका जन्मदिन भी लेकिन अब वो यह डेट कैंसिल कर रहे हैं क्योंकि उनके लिए लोगों की सुरक्षा पहले है जिस तरह से कोरोना दिन प्रतिदिन पांव पसार रहा है उससे कहीं ना कहीं या उनकी शादी को भी कहीं न कहीं प्रभावित करता अब उन्होंने इस बारे में ससुराल पक्ष के सामने भी बात रखी जिसपर उन्होंने भी हामी भर दी। राहुल बताते हैं कि उन्होंने शादी की पूरी तैयारी कर ली थी और कार्ड भी बकायदा इसके लिए छपवा कर वितरित कर दिए थे। लेकिन अब जब शादी स्थगित हो गई है तो वह सबको इसकी जानकारी दे रहे हैं।
पुलिस ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर
डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने कोरोना वायरस को लेकर अफवाहों पर अंकुश लगाने के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिया है इस हेल्पलाइन नंबर के जरिए कोरोना से फैली अफवाह को रोका जा सकता है। आप अफवाओ का सच जानने के लिए इस वाट्सप नंबर 9412080720 पर मैसेज भेजकर इसकी पुष्टि कर सकते है।
पुलिस को भी अफवाह फैलाने वाले लोगों पर पूरी नजर है अगर ऐसा कोई भ्रामक खबर फैलाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सकती है
मुख्य सचिव ने जारी किया आदेश
मुख्य सचिव उत्पल कुमार ने शासन और जनपदों के अधिकारियों को साफ निर्देश दे दिया है कि कोरोना वायरस को देखते हुए कोई भी गंभीर स्थिति पैदा ना हो इसके लिए वह एक एहतियाती कदम उठाकर हर परिस्थिति का सामना करने के लिए वर्क प्लान तैयार करें।
सचिवालय में आयोजित एक वीडियोकॉन फिक्स मुख्य सचिव ने कहा था कि जरूरी सेवाओं का वितरण सही ढंग से की जाए इसमें किसी भी तरह की क्योंकि गुंजाइश ना हो। खाद्य आपूर्ति घरेलू गैस के साथ ही स्वास्थ्य सेवाओं को व्यवस्थित करें। साथ ही सभी विभाग अपने कार्यस्थल क्षेत्र में उचित सैनिटाइज करें और लोगों को सोशल मीडिया से जागरूक करने की कोशिश करें।
मुख्य सचिव ने पूर्ति विभाग को निर्देश दिया है कि गोदाम से लेकर सस्ते गल्ले की दुकानों तक खाद्यान्न पेट्रोल व गैस के पर्याप्त ट्रांसपोर्ट सप्लाई बनाकर लोगों तक पहुंचाया जाए सस्ते गल्ले की दुकान है और भीड़भाड़ जैसे इलाकों में टोकन सिस्टम करके भीड़ को कम किया जाए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here